त्रिपुरा में 18 फरवरी को चुनाव हैं,ऐसे में बीजेपी ने वादा किया है कि हर परिवार को वो एक नौकरी देगी बीजेपी और उसकी सहयोगी आईपीएफटी ने कहा है कि हम राज्य में सामाजिक-आर्थिक, भाषाई और सांस्कृतिक पहचान को बनाए रखने और उसे बढ़ाने के लिए काम करेंगे।

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने बीजेपी का विज़न डॉक्युमेंट भी जारी किया उन्होंने कहा कि केंद्र जल्दी ही आदिवासियों के पिछड़ेपन पर एक कमेटी गठित करेगा इसके साथ ही बीजेपी ने राज्य के बंटवारे की आशंकाओं को खारिज किया त्रिपुरा की दो तिहाई जनता आदिवासी नहीं है,ये लोग इस बात से डरे हैं कि बीजेपी राज्य के दो हिस्से कर सकती है,क्योंकि बीजेपी की सहयोगी पार्टी लंबे समय से आदिवासियों के लिए अलग राज्य की मांग उठा रही है।

बीजेपी ने कम्युनिस्ट शासन वाले इस राज्य में आईटी इंडस्ट्री की स्थापना कर नौकरियां देने का वादा किया है,इसके साथ ही लड़कियों की ग्रैजुएशन तक की शिक्षा फ्री और किसानों की आय अगले 5 सालों में दोगुनी करने के वादे किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here