नई दिल्ली-गुरुग्राम में खुले मैदान में नमाज़ के विरोध के बाद हरियाणा सीएम ने बयान देते हुए कहा था कि नमाज़ मस्जिद में अदा किया जाना चाहिए,खुले में नमाज़ नही अदा की जानी चाहिए.इस ब्यान के बाद हरियाणा वक्फ बोर्ड ने राज्य सरकार को खत लिख्कार वक्फ ज़मीनों से अवैध कब्ज़ा हटवाने को कहा है.

गौरतलब है कि गुरुग्राम में वक्फ बोर्ड के करीब बीस बड़े भूखंड है जिस पर या तो राज्य सरकार ने या फिर किसी व्यक्ति ने कब्जा जमाया हुआ है.वक्फ बोर्ड ने इसकी लिस्ट राज्य सरकार को भेजकर कब्जा हटवाने को कहा है.अभी तक राज्य सरकार ने इस मसले पर कोई प्रतिक्रिया नही दी है.

गौरतलब है कि गुरुग्राम में बड़ी संख्या में बाहर से रोजगार की तलाश में आये मुस्लिम रहते है,शहर में मस्जिदों की संख्या कम है.इस वज़ह से पिछले कई वर्षो से मुस्लिम खाली पड़ी ज़मीनों पर शुक्रवार की नमाज़ अदा करते आ रहे थे लेकिन अप्रैल में भगवा संघठनो ने मुस्लिमो के खुले में नमाज़ अदा करने का विरोध किया जिसके बाद गुरुग्राम के दस ज़गहो पर नमाज़ रोकी गयी.

गुरुग्राम पुलिस ने लॉ एंड आर्डर का हवाला देकर अपने इस कदम को सही बताया.हलाकि हरियाणा सरकार के इस स्टैंड के बाद सोशल मीडिया पर बहस तेज़ है आखिर खुले मैदान में हो रहे जागरण,अन्य धार्मिक प्रोग्राम पर भी क्या रोक लगेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here