महाराष्ट्र/गुजरात

भाजपा मंत्रियो को ज़िम्मेदार बताकर किसान ने दी जान,पानी की समस्या से..

महाराष्ट्र में कर्ज और पानी की समस्या के चलते किसानों का जान देना किसी से छिपा नहीं है। आए दिन वहां से ऐसी खबरें आती रहती हैं। एक ताजा मामले में पानी की कमी से परेशान एक किसान ने कुएं में कूद कर अपनी जान दे दी। ये घटना पुणे के ग्रामीण की इंदापुर तहसील की है। यहां इंदापुर तहसील के करदनवाड़ी गांव के 48 वर्षीय किसान वसंत सोपान पवार ने रविवार को सुसाइड कर लिया।

वसंत सोपान आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइड नोट छोड़ गए। इस सुसाइड नोट में उन्होंने राज्य के कुछ मंत्रियों के नाम लिखे हैं। किसान का शव और ये सुसाइड नोट रविवार की सुबह करीब 11 बजे उनके घर के पास स्थित कुएं से बरामद किया गया।पुलिस को वहां से जो सूइसाइड नोट मिला है, उसमें किसान ने आत्महत्या का कारण सिंचाई के लिए नहर में पानी न छोड़ा जाना बताया है और पानी न छोड़ने के लिए उसने राज्य के दो मंत्रियों को जिम्मेदार ठहराया है।

पुलिस ने सूइसाइड नोट में मंत्रियों के नाम होने की पुष्टि की है।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुणे ग्रामीण पुलिस के वालचंदनगर पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने कहा, ‘जिले की इंदापुर तहसील के करदनवाड़ी गांव के किसान वसंत सोपान पवार (48) का शव रविवार की सुबह करीब 11 बजे उनके घर के पास स्थित कुएं से बरामद किया गया।’ मामले के जांच अधिकारी एस.वी. होले ने कहा, ‘उसके शव के पास मिले एक नोट के मुताबिक पवार ने इसलिए आत्महत्या की क्योंकि पास की सिंचाई नहर में पर्याप्त पानी नहीं था। अपुष्ट नोट में महाराष्ट्र सरकार के दो मंत्रियों का भी जिक्र है, जिन्हें उसने कथित तौर पर नहर में पानी नहीं छोड़े जाने के लिये जिम्मेदार ठहराया है।’ अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
साभार-जनसत्ता

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top