वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन के पास निर्माणाधीन फ्लाईओवर का एक हिस्सा मंगलवार शाम करीब 5:20 बजे गिरने से एक बड़ा हादसा हुआ। वाराणसी हादसे पर अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी जोन ने एक बयान जारी कर सूचना दी कि सिगरा थाने में गैर इरादतन हत्या समेत पांच धाराओ में केस दर्ज कर लिया गया है।
उप्र के राहत आयुक्त संजय कुमार ने वाराणसी में निर्माणाधीन पुल ढहने से अभी तक 15 लोगों की मौत की पुष्टि कर दी है। इनमें से एक महिला समेत 12 के शव निकाले जा चुके हैं। पुल की शटरिंग के लिए बने वजनी पिलर के नीचे रोडवेज बस, बोलेरो समेत कई दोपहिया वाहन दब गये। पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने बताया कि 8 से 10 मोटरसाइकिल भी इसकी चपेट में आई हैं। एक दर्जन से अधिक घायलों को मंडलीय अस्पताल एवं बीएचयू के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया था।एक तरफ जहाँ लापरवाही से हुए दर्दनाक हादसे में मृतकों की कीमत 5 लाख लागई गयी।
वहीं दुसरी तरफ सरकार के भ्रष्ट कर्मचारी खुलेआम 300₹ प्रति शव पोस्टमार्टम के लिए ले रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here