नई दिल्ली-मध्य प्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान लगातार करप्शन पर घिरते जा रहे है,जहाँ एक तरफ पीएम मोदी जीरो टोलरेंस की बात करते है वही शिवराज ने तो घोटाला उजागर करने वाले अफसर का ही तबादला कर दिया है.बता दे ये कोई पहला मामला नही है इससे पहले कटनी में हवाला कारोबार का पर्दाफाश करने वाले एसपी गौरव तिवारी का तबादला किया था जिस पर जनता ने खुद प्रदर्शन किया था.

शिवराज ने पार्टी नेता के दबाव में भोपाल नगर निगम की कमिश्नर छवि भारद्वाज का तबादला कर दिया है,इस तबादले के बाद प्रदेश सरकार के खिलाफ विपक्ष ने तीखे हमले करने शुरू कर दिए है आईएस छवि भारद्वाज की छवि तेजतर्रार और ईमानदार अफसर की है. मगर उन्हें शिवराज सरकार में ईमानदारी की सजा मिली है.

क्या है मामला
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के नगर निगम में दो सौ करोड़ के घोटाले को उजागर करने वाली कमिश्नर छवि भारद्वाज के खिलाफ भाजपा नेता लामबंध थे,सूत्रों के अनुसार नगर निगम के मेयर आलोक शर्मा करप्शन के मामले को दबाना चाहते थे,गौरतलब है कि घोटाला स्मार्ट पार्किंग और होर्डिंग्स के ठेके से जुड़ा था.

वही नगरनिगम की कमिश्नर रहते छवि भारद्वाज ने तमाम दवाबो के बावुजूद कार्यवाही नही रोकी.जिसके बाद मेयर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कमिश्नर को ही हटाने के लिए दवाब बना दिया. जिसके बाद शिवराज सरकार ने भोपाल नगर निगम कमिश्नर छवि भारद्वाज को हटा दिया है.

छवि भारद्वाज को इमानदारी की सज़ा देते हुए मामूली पद देकर शिवराज ने अपनी सरकार की मंशा साफ़ कर दी है अब छवि भारद्वाज पर्यटन विकास निगम में बतौर प्रबंध संचालक नियुक्त की गयी है वही उनके स्थान पर टीकमगढ़ कलेक्टर प्रियंका दास को नगर निगम का नया कमिश्नर बनाया गया है.

कांग्रेस हुई हमलावर
शिवराज सिंह चौहान द्वारा नगरनिगम के करप्शन पर छवि भारद्वाज को हटाए जाने पर कांग्रेस हमलावर मुद्रा में है ,कांग्रेस नेता अजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की बात करते हैं, लेकिन उनकी कथनी और करनी में अंतर एक बार फिर सामने आया है.

कांग्रेस नेता ने कहा कि भोपाल नगर निगम की वाहन शाखा में 200 करोड़ रुपये का घोटाला सामने लाने वाली आयुक्त छवि भारद्वाज को अचानक छुट्टी के दिन हटाना इस बात का प्रमाण है कि इस घोटाले में शामिल लोगों को मुख्यमंत्री बचाना चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि चाहे कटनी के एसपी गौरव तिवारी हों या सतना नगर-निगम के आयुक्त कथूरिया की पोस्टिंग का मामला हो, इन दोनों ईमानदार अफसरों को पहले भी हटाकर सीएम शिवराज ने संदेश दिया है कि वह करप्शन को बढावा देने वाले अफसर चाहते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here