टोंक-इफ्तार पार्टी में शरीक होने पहुंचे राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव को विरोध का सामना करना पड़ा,मौलवी ने वैभव गहलोत को मस्जिद से बाहर ही रोक लिया और सियासत नहीं करने की सलाह भी दे डाली.दरअसल, यह वाकया टोंक की काफला मस्जिद में पेश हुआ.जहां राजस्थान की सियासत में खास मुकाम रखने वाले कांग्रेसी नेता अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत रोजा इफ्तार की पार्टी में शामिल होने पहुंचे थे.सूत्रों ने बताया कि वैभव गहलोत को वहां पूर्व नगर परिषद सभापति मोहम्मद अजमल ने बुलावा भेजा था.


रोजा इफ्तार की पार्टी पहले टोंक की जामा मस्जिद में रखी गई थी,लेकिन जैसे ही वैभव के आने की खबर अशोक गहलोत के विरोधी गुट को लगी तो इसका विरोध किया गया.जिसके चलते बाद में कार्यक्रम में परिवर्तन करते हुए इसे काफला मस्जिद में रखा गया.इस दौरान वैभव गहलोत बुलावे के मुताबिक काफला मस्जिद में रखे इफ्तार पार्टी में हिस्सा लेने कांग्रेसी नेताओं के साथ पहुंचे.जहां मौलवी सईद साहब वैभव को बाहर ही रोक लिया और इफ्तार पार्टी में आने से मना कर दिय.मौलाना ने वैभव को धार्मिक कार्यक्रम में सियासत नहीं करने की सलाह भी दे डाली.


इफ्तार पार्टी में हुए इस मसले ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि कांग्रेस के दो धड़ों पायलट और गहलोत में खींचतान अभी जारी है.ऐसे मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष राम बिलास चौधरी,पूर्व सभापति अजमल के साथ इफ्तार पार्टी में शामिल होने पहुंचे वैभव को दबे पांव वापस लौटना पड़ा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here