लखनऊ-सपा नेता आजम खान ने आरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत के भारतीय सेना पर दिए गये ब्यान पर तंज़ कसा है,आजम खान ने सोमवार को कहा कि अच्छी बात है भारत के पास अब डबल आर्मी हो गई है.डबल आर्मी से चीन और पाकिस्तान दोनों से निपटने में सहूलत हो जाएगी.

आजम खान ने पूछा कि मोहन भागवत जी तीन दिन में जो आर्मी तैयार करेंगे,क्या उसके पास वह हथियार हैं,जो दुश्मन के पास हैं? उन्होंने कहा कि इससे देश में भी डर पैदा होगा कि एक प्राइवेट आर्मी हो गई है. आजम ने कहा कि जिसकी सरकार उसका संविधान. सरकार के कंट्रोल में आर्मी होती है, अब सरकार के पास डबल आर्मी हो गई है.

गौरतलब है कि बिहार के मुजफ्फरपुर में एक कार्यक्रम के दौरान आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा था, ‘यह हमारी क्षमता है पर हम सैन्य संगठन नहीं, पारिवारिक संगठन हैं, लेकिन संघ में सेना जैसा अनुशासन है. यदि देश को जरूरत पड़े और संविधान और कानून की इजाजत हो तो सेना तैयार करने में भले ही 6 माह का समय लग जाए, लेकिन संघ के स्वयंसेवक 3 दिनों में देश के लिए तैयार हो जाएंगे.इसके साथ ही उन्होंने भारत-चीन के युद्ध की चर्चा करते हुए कहा कि जब चीन ने हमला किया था तो उस समय संघ के स्वयंसेवक सीमा पर सेना के आने तक डटे रहे. हालांकि भागवत के इस बयान पर संघ की तरफ से भी आई सफाई में कहा गया कि भागवत के बयान को संदर्भ से हटकर पेश किया गया है.

संघ द्वारा जारी बयान में कहा गया, ‘मोहन भागवत भारतीय सेना की तुलना आरएसएस से नहीं कर रहे थे. हकीकत में उन्होंने कहा था कि आर्मी अपने जवानों को तैयार करने में 6 महीने का समय लेती है. अगर आरएसएस ट्रेनिंग दे तो सैनिक 3 दिन में स्वयंसेवक भी बन सकते हैं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here