मालवा- जिले के आगर में बुधवार (17 जनवरी) को देवास-शाजापुर के भाजपा सांसद मनोहर उंटवाल और मालवा-आगर के भाजपा विधायक गोपाल परमार आपस में ही उलझ गए.बुधवार को ये यात्रा आगर पहुंची थी लेकिन इसके ध्वज को लेकर दोनों नेताओं में भिड़ंत हो गई. इस दौरान दोनों नेताओं ने एक-दूसरे को गालियां दीं और धक्का-मुक्की की.

इसके बाद दोनों नेताओ में आपस में भडक गये,समर्थकों के बीच जमकर लात-घूसे चले और मारपीट हुई.करीब 15 मिनट तक वहां अफरा तफरी मची रही.हंगामा बढता देखके पुलिस और पार्टी नेताओ ने मामले को शांत कराने की कोशिश की.मामला खत्म होने के बाद अब एमपी-विधायक एक-दूसरे पर मंत्री बनने,चुनाव लड़ने और मारपीट,गाली-गलौच के आरोप लगा रहे हैं.गौर करने वाली बात है कि इस विवाद को देखते हुए ध्वज को यात्रा में लेकर चलने के बजाय रथ में रखना पड़ा.

बता दे इससे पहले भी सीतापुर में सांसद और विधायक के बीच भी कम्बल वितरण को लेकर मारपीट हुई है.इस मामले को लेकर मीडिया में काफी हांईप दिया लेकिन मामले के उजागर होने के बाद भाजपा में बड रही गुटबाजी का इशारा मिला.सीतापुर के अलावा नीतीश सरकार में शहरी विकास और आवास विभाग मंत्री और भाजपा के विधायक सुरेश कुमार शर्मा यहां पूजा में शामिल होने गए थे.

मुजफ्फरपुर विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले शर्मा तारापीठ के प्रसिद्ध काली माता के मंदिर गए थे और वहां सोनार बंगला नाम के होटल में रुके थे.सूत्रों के मुताबिक मंत्री होटल के AC रूम में ठहरे थे, लेकिन चेक आउट करते वक्त उन्होंने कथित तौर पर AC रूम का अतिरिक्त किराया देने से इनकार कर दिया, जिसके बाद उनकी होटल के कर्मचारियों से बहस हो गई थी और मामला ने तूल पकड़ लिया था.सूत्रों के मुताबिक मंत्री होटल के AC रूम में ठहरे थे, लेकिन चेक आउट करते वक्त उन्होंने कथित तौर पर AC रूम का अतिरिक्त किराया देने से इनकार कर दिया, जिसके बाद उनकी होटल के कर्मचारियों से बहस हो गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here