पटना-बिहार में लोकसभा की एक सीट पर उपचुनाव के एलान के बाद के बाद सियासी सरगर्मी तेज़ हो गयी है.इस सीट से पहले राजद नेता स्वर्गीय तस्लीमुद्दीन सांसद थे.उनके निधन से ये सीट खाली हो गयी है,तस्लीमुद्दीन के बेटे सरफराज आलम जनता दल यूनाइटेड के विधायक है लेकिन अब उन्होंने जनता दल यूनाइटेड को बड़ा झटका देते हुए विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.

शनिवार को सरफराज आलम ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया इसके बाद उनके राजद में जाने की अटकले तेज़ हो गयी है,सरफराज राबड़ी देवी से मिलने उनके आवास पर पहुंचे.सरफराज आलम ने मीडिया को बताया कि उन्होंने इस्तीफा दे दिया है और यहां पर औपचारिक मुलाकात के लिए आये हैं.
जब मीडियाकर्मियों ने सरफराज आलम से पूछा कि वह किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगे तो उन्होंने कहा कि यह अररिया की जनता तय करेगी.

सरफराज आलम

सरफराज के बारे में दावा किया जा रहा है कि वो लोकसभा का चुनाव राजद से लड़ेंगे.सरफराज आलम के इस्तीफा देने के बाद पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा कि नीतीश कुमार के एक और विधायक ने जदयू से इस्तीफा दे दिया.इंतजार कीजिए,अभी कितनी टूट होगी और होगी.तेजस्वी,तो अभी बच्चा है न जी.


गौरतलब हो कि चुनाव आयोग ने अररिया लोकसभा चुनाव के साथ बिहार में जहानाबाद और भभुआ विधानसभा सीट के लिए चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है. 11 मार्च को अररिया में चुनाव होना है.सरफराज के इस्तीफे पर जनता दल यूनाइटेड ने सधी हुई प्रतिक्रिया दी है और कहाकि जिसको आना है आये या जाए इससे कोई फर्क पार्टी को नही पड़ने वाला है हलाकि पार्टी ने सरफराज आलम के विधानसभा के इस्तीफे की खबर को तो माना लेकिन सरफराज आलम के पार्टी छोड़ने की खबरों को गलत बताया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here