नई दिल्ली-ऑस्ट्रेलिया के मशहूर खिलाड़ी उस्मान ख्वाजा अगले महीने अपनी मंगेतर रशैल मेकलेल्लन के साथ शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं.उस्मान ख्वाजा पहले मुस्लिम हैं, जिन्हें ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट नेशनल टीम में खेलने का मौका दिया गया है. ख्वाजा ने जब एक कैथोलिक लड़की से शादी करने का मन बनाया तो सब चौंक गए थे.लोग सोचने लगे थे कि ऑस्ट्रेलियाई टीम का यह खिलाड़ी विश्वास करने लायक है या नहीं क्योंकि उस्मान का धर्म इस्लाम था.वहीं इसी को लेकर उस्मान ख्वाजा की मंगेतर रशैल का कहना है कि उस्मान ने इस्लाम के प्रति उनका नजरिया बदल दिया है.

हाल ही में ’60 मिनट’ नामक एक शो में पहुंची रशैल ने खुलासा किया कि वह पहले इस्लाम को लेकर बहुत गलत सोचती थीं और इस्लाम को लेकर उनकी एक अलग ही धारणा थीं. क्रिकट्रैकर के अनुसार, एक रिपोर्टर एलिसन लैंगडन से रशैल ने कहा, “उस्मान पहले मुस्लिम थे जिससे मैं जिंदगी में पहली बार मिली थी.मैं उन्हें पहले बहुत नजरअंदाज करती थी और यह बिलकुल सच है, मैं स्वीकार करती हूं.आतंकियों और भयानक चीजों के बारें में मैं खबरों में सुनती थी और अखबारों में भी पढ़ती थी। उस्मान ने इस्लाम के प्रति मेरा नजरिया बदल दिया.”

आपको बता दें कि रशैल ने उस्मान से सगाई करने के बाद इस्लाम धर्म अपना लिया.उन्होंने यह भी बताया कि किसी ने भी उन्हें इस्लाम अपनाने के लिए फोर्स नहीं किया था और यह उनका अपना फैसला था. इस पर बात करते हुए रशैल ने कहा, “इस्लाम अपनाने को लेकर न तो मुझपर उस्मान ने दवाब डाला और न ही उसके परिवार ने.मैं बस जानती थी कि उसके लिए यह बहुत महत्वपूर्ण रखता है.” बता दें कि उस्मान से सगाई करने के बाद कई लोगों ने सोशल मीडिया और ईमेल के जरिए रशैल को सलाह दी थी कि वे उस्मान से शादी न करें. इतना ही नहीं कई लोगों ने उस्मान से भी कहा था कि रशैल मुस्लिम नहीं है. यह तुम्हें नुकसान पहुंचा सकता है इसलिए रशैल से शादी मत करो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here