राजनीति

कर्नाटक:राज्यपाल ने JDS-कांग्रेस को नहीं बुलाया फिर खून-खराबा होगा:कांग्रेस

नई दिल्ली-कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए जेडीएस और कांग्रेस को मौक़ा ना दिए जाने की खबरों पर कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने कहा है कि भाजपा उनके विधायकों को धमका रही है,उन पर दबाव बना रही है,उसे डेमोक्रेसी में भरोसा नही.कांग्रेस नेता ने कहा कि अगर राज्यपाल ने संवैधानिक मूल्यों का पालन नहीं किया और हमारे गठबंधन को सरकार बनाने के लिए निमंत्रित नहीं किया,तो यहां खूनी संघर्ष होगा.उन्होंने कहा कि कांग्रेस विधायकों के असंतुष्ट होने की अफवाहें फैलाई जा रही हैं,लेकिन वास्तव में बीजेपी असंतुष्ट है.

इस बीच कांग्रेस विधायक अमरेगौड़ा ने कहा है कि भाजपा ने उन्हें कैबिनेट मंत्री के पद का ऑफर दिया था,लेकिन उन्होंने ठुकरा दिया.अमरेगौड़ा लिंगनागौड़ा पाटिल बयापुर कर्नाटक के कुश्तगी से विधायक हैं.गुलाम नबी आजाद ने कहा कि राज्य की सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी भाजपा के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं है. बीजेपी के पास 104 सीटें हैं,हमारे (कांग्रेस-जेडीएस) पास 117 सीटें हैं. राज्यपाल पक्षपाती नहीं हो सकते हैं.

उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या एक आदमी जो संविधान को बचाने के लिए राजभवन में बैठा है,उसे नष्ट कर देगा?एक राज्यपाल को अपने सभी पुराने संबंध खत्म कर देने होते हैं,चाहे वो भाजपा हो या राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ.गौरतलब है कि मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि राज्यपाल भाजपा को सरकार बनाने के लिए बुला सकते है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top