भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में कलाकारों को बहुत शोहरत मिलती है लेकिन शोहरत के साथ विवाद भी आते है.फ़िल्मी दुनिया में कई ऐसे मामले सामने आये है जिसको सुनकर लोग चौक जाते है भारत में कई दिनों से मी टू मूवमेंट चल रहा है.इसमें महिलाये अपने उपर हो रहे यौन उत्पीडन पर बेबाकी से राय दे रही है.फिल्म इंडस्ट्री की कई चर्चित अभिनेत्रियों ने अपने साथ यौन उत्पीडन की घटनाएं शेयर कर रही है.

जैसा कि आप जानते है फिल्म एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने फिल्म एक्टर नाना पाटेकर पर कई गंभीर आरोप लगाये है लेकिन अब मामला काफी आगे बढ़ चुका है.नाना पाटेकर के बाद सुभाष घई,आलोकनाथ जैसे कई लोगो पर यौन उत्पीडन के आरोप लगे है इन लोगो को बेहद शरीफ और संस्कारी माना जाता है.

#MeToo मूवमेंट के शुरू होने के बाद से अब तक एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से जुड़ी कई महिलाओं ने खुद से जुड़े यौन शोषण के मामलों पर चुप्पी तोड़ी है. इंडस्ट्री के कई दिग्गजों आलोक नाथ, सुभाष घई, नाना पाटेकर, साजिद खान, विकास बहल आदि पर महिलाओं ने सेक्शुअल हैरसमेंट से लेकर रेप तक के आरोप लगाए हैं.मीटू के तहत अब ऐक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह ने भी अपना एक एक्सपीरियंस शेयर किया है.

उन्होंने बताया कि कैसे उन्हें फिल्म ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ के लिए न्यूड सीन देने के लिए कहा गया था.चित्रांगदा ने कहा कि फिल्म के डायरेक्टर कुशान नंदी ने शूटिंग के दौरान उनके साथ बुरा बर्ताव किया था.

उन्होंने कहा कि स्क्रिप्ट में अचानक बदलाव करते हुए डायरेक्टर ने उन्हें नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ कपड़े उतारकर लव सीन शूट करने के लिए कहा. इतना ही नहीं उन्होंने गलत शब्दों का भी इस्तेमाल किया। ऐक्ट्रेस ने कहा कि यह अनुभव उनके लिए काफी पीड़ादायक रहा.

चित्रांगदा ने बताया कि इस सब के बीच जो चीज उन्हें सबसे बुरी लगी और जिसने उन्हें सबसे ज्यादा हर्ट किया वह यह थी कि फिल्म के लीड ऐक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने इस दौरान उनका साथ नहीं दिया.

उन्होंने बताया कि सामने मौजूद होते हुए भी नवाजुद्दीन ने डायरेक्टर से कुछ नहीं कहा। ऐक्ट्रेस ने कहा कि सेट पर मौजूद फिल्म की महिला निर्माता तक चुप्पी बनाए रहीं.आखिर में उनसे यह सब सहा नहीं गया और उन्होंने फिल्म छोड़ दी।

फिल्म ‘बाजार’ में दिखने जा रहीं चित्रांगदा सिंह ने तनुश्री दत्ता के प्रति पूरा सपॉर्ट दिखाया और मजबूती के साथ अपना अनुभव शेयर करने और नाना पाटेकर के खिलाफ लड़ाई जारी रखने के लिए उनकी तारीफ भी की.बरहाल इन मामलो से भारतीय फिल्म इंडस्ट्री की बहुत बदनामी हुई है.हलाकि ऐसा पहले से कहा जा रहा है कि फिल्म इंडस्ट्री में महिलाओ का यौन शोषण होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here