पटना-केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की मुसीबते थमने का नाम नही ले रही है,दलितों की ज़मीन ज़बरन कब्ज़ा करके बेचने के मामले में उन पर FIR दर्ज हो चुकी है अब इसके बाद बिहार की प्रमुख विपक्षी राजद ने गिरिराज के खिलाफ मुहीम तेज़ कर दी है.राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने शुक्रवार को कहा है कि जमीन कब्जा मामले में केंद्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह के खिलाफ पार्टी इलेक्शन कमीशन जाकर उनकी संसद सदस्यता खत्म करने की मांग करेगी.जो जमीन दो किस्तों में गिरिराज सिंह ने लिखवायी है उसकी जानकारी चुनाव आयोग को दिये गये हलफनामे में नहीं है.

उन्होंने कहाकि आखिर जमीन और उनके घर मिले करोड़ों रुपये से क्या संबंध है?गिरिराज सिंह को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बचाया.गिरिराज सिंह बात-बात में लोगों को पाकिस्तान भेजते हैं.भाजपा उन पर कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है? दो एकड़ 56 डिसमिल जमीन पर कब्जा मामले में कोर्ट के आदेश के बाद भी एफआईआर में देरी क्यों हुई? बाद में संबंधित थाना प्रभारी ने आखिर क्यों मामला दर्ज किया? गौरतलब हो कि दलित की जमीन पर कब्जा करने के मामले में गिरिराज सिंह के खिलाफ दानापुर थाने में मामला दर्ज कराया गया है.

इस मामले पर गिरिराज सिंह बचाव की मुद्रा में है पिछले दिनों उनका एक ब्यान आया था कि उन्हें FIR की जानकारी तेजस्वी के ट्वीट से मिली है अभी वो कुछ नही बोल सकते है वो निर्दोष है और इस मुकदमे के पीछे तेजस्वी यादव का हाथ है.लेकिन इस ब्यान के बाद केन्द्रीय मंत्री खामोश है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here