इंदौर– मध्यप्रदेश के इंदौर में एक जनाज़े को दफनाने को लेकर दो समुदायों में संघर्ष हो गया,दरअसल जिस जगह पर एक समुदाय शव को दफनाना चाह रहा था उस ज़गह पर बहुसंख्यक समाज का दावा था ये ज़गह उनकी है

दोनों तरफ से हुई पथ्थरबाज़ी में 12 से अधिक लोग घायल हो गये है,पुलिस ने घायलों को इलाज़ के लिए सरकार अस्तपताल में भर्ती कराया है और इलाके में धारा 144 लगाकर पुलिस फाॅर्स तैनात कर दी है.

जाने पूरा मामला
शनिवार को शाजापुर में दो गुटों में जमकर पथराव हुआ,जानकारी जो प्राप्त हुयी है उसके अनुसार, विवाद की शुरुआत जब अल्पसंख्यक समुदाय के लोग एक जनाज़े को लेकर पहुचे और जब खाली पडे़ स्थान पर लोगो ने लाश को दफनाने के लिए कब्र खोदना शुरू किया फिर दुसरे समुदाय ने इसका विरोध किया विवाद बढने पर पुलिस को सूचना दी गयी.

मामले की गंभीरता देखते हुए पुलिस और प्रशासनिक अफसरों ने ज़मीन की पैमाइश कराई जिसमें जमीन बैरागी नाथ समाज के मरघट के नाम से दर्ज पायी गयी इसके बाद प्रशासन ने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगो को कहीं और लाश को दफनाने को कहा.

सबकुछ सामान्य हो गया था लेकिन अचानक किसी ने पथराव कर दिया इससे हालात बिगड़ गये,दोनों समुदाय की तरफ से पथ्थर फेके गये,इस पथराव में 12 लोग घायल हो गये.

घटना में घायल हुए लोगो का अस्तपताल में इलाज़ करवाया जा रहा है,इस घटना के बाद शाजापुर में तनाव है,स्थिति को देखते हुए कलेक्टर अलका श्रीवास्तव ने शहर में धारा 144 लगा दी,प्रशासन का दावा है कि स्थिति नियंत्रण में है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here