नई दिल्ली…जेल में मुन्ना बजरंगी की ह्त्या के बाद जहां प्रशासन सवालों के घेरे में है वहीं बह्बलियों की सुरक्षा जेल के अन्दर बढ़ा दी गयी है. बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी हों या एमएलसी बृजेश सिंह और माफ़िया बबलू श्रीवास्तव और अतीक़ अहमद, सभी को अब अपनी जान का डर सता रहा है.इन सभी को लगने लगा है कि इनकी जान को अब ख़तरा है. प्रशासन भी इस मामले में अब कोई लापरवाही बरतने के मूड में नहीं है.


बजरंगी की ह्त्या के बाद कहा जा रहा है कि अब निशाने पर मुख्तार अंसारी जैसे बाहुबली हो सकते हैं. ऐसे में जेल अधिकारी कड़ी निगरानी कर रहे हैं और इस कोशिश में हैं कि किसी भी तरह से कोई चूक न हो. साथ ही जेल अधिकारी ये भी कह रहे हैं कि सभी माफिया डरे हुए हैं कि कहीं अगला नंबर उनका तो नहीं. सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक़ मुख्तार अंसारी समेत कुछ बाहुबलियों ने अपनी सुरक्षा को लेकर खुल कर बात की है. माफ़िया डॉन अक्सर करके शाम को वाक किया करते थे लेकिन आजकल ये लोग कोई हरकत नहीं कर रहे हैं. ये लोग अधिक समय अपनी अपनी बैरक में ही बिता रहे हैं. अब ये लोग उनसे भी नहीं मिल रहे जो इनसे मिलने आ रहे हैं.


आपको बता दें कि बसपा विधायक मुख्तार अंसारी जेल में बंद हैं. मुख्तार उत्तर प्रदेश की कई जेलों में रह चके हैं और साथ ही तिहाड़ में भी रह चुके हैं. ऐसा कहा जाता है कि मुख्तार के एक इशारे पर कुछ भी उन्हें जेल के अन्दर मिल जाता है. वो जेल के अन्दर भी शाही ज़िन्दगी बिताते थे. यहाँ तक कि जेल अधिकारी भी उनकी तलाशी लेने नहीं जाते थे.

ये है वज़ह…

मुन्ना बजरंगी की पत्नी ने तो हत्या का आरोप केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा और भाजपा विधायक अलका राय पर लगाया है.जिस प्रकार दो अलग अलग फोटो वायरल हुई और जिस तरह हत्या को अंजाम दिया गया है घरवालो का आरोप है ये सब यूपी सरकार की शह पर हुआ है.अगर ऐसा है फिर अगला निशाना मुख्तार हो सकते है क्युकि भाजपा विधायक कृष्णानन्द राय की हत्या का आरोप मुख्तार अंसारी पर है.हलाकि यूपी सरकार ने बजरंगी के परिजनों के आरोप को बेबुनियाद बता के ख़ारिज कर दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here