लखनऊ-समाजवादी पार्टी को छोड़कर भाजपा में शामिल हुए नरेश अग्रवाल ने अपने दल परिवर्तन पर कहाकि उनके स्थान पर सपा ने नाचने वाली को वरीयता दिया इस वजह से उन्होंने सपा को छोड़ दिया.उनकी ये टिप्पड़ी सपा की राज्यसभा उम्मीदवार जया बच्चन को लेकर है.हलाकि सपा सूत्रों का दावा है कि नरेश अग्रवाल को पार्टी टिकट देने के लिए तैयार थी लेकिन इस बीच नरेश अग्रवाल का भाजपा के साथ कई बैठक हो रही थी,जब पार्टी को इसकी खबर हुई उसके बाद समाजवादी पार्टी ने नरेश अग्रवाल की जगह फिल्म अभिनेत्री जया बच्चन को राज्यसभा का उम्मीदवार बना दिया.

सूत्रों का दावा है कि सपा के मौजूदा राज्यसभा सांसद जावेद अली खान ने भाजपा के साथ नरेश अग्रवाल की नज़दीकियों को भांप लिया था.पार्टी सूत्रों का दावा है कि नरेश अगवाल भाजपा के साथ मिलकर सपा को राज्यसभा बड़ा झटका देने की तैयारी में थे.नरेश अग्रवाल सपा से राज्यसभा सांसद बनकर कुछ दिनों बाद इस्तीफे का प्लान बनाये थे.

नरेश अग्रवाल के राज्यसभा में निर्वाचन के बाद अगर वो इस्तीफ़ा देते उसके बाद सपा के उम्मीदवार का दुबारा जीतना असंभव था इसकी वजह राज्यसभा उपचुनाव में सभी विधायको की वोटिंग होती है और विधानसभा में भाजपा का बहुमत है. सपा सांसद जावेद अली खान ने नरेश अग्रवाल के गणित को प्रोफेसर रागोपाल यादव को समझा दिया और इससे सपा ने अपनी एक सीट कम होने से बचा ली अपना प्लान फेल होते देख नरेश अग्रवाल ने सपा तो छोड़ दी पर जो नुकसान पार्टी को पहुँचना चाहते थे उसमें फेल हो गये.

नरेश अग्रवाल के सपा छोड़ने के बाद जावेद अली खान ने अपने फेसबुक अकाउंट से अग्रवाल पर तीखा हमला किया है,उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा-“भाजपा में बिना शर्त गये नरेश,सपा में ही मनवाते थे सारी शर्तें,आखिरकार भक्तगति को प्राप्त”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here