नई दिल्ली…पाकिस्तान की एकाउंटिबिलिटी कोर्ट ने एवेनफील्ड करप्शन मामले में उन्हें दस साल की सजा सुनाइ है इस बीच एक खबर आ रही है कि लंदन में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर गुस्साए लोगों ने हमला किया है. यह हमला उनपर तब किया गया जब वह एवेनफील्ड स्थित अपने बेटे के घर में जा रहे थे.


पाकिस्तानी न्यूज़पेपर डॉन के मुताबिक,नौजवान लोगो की भीड़ ने नवाज के बेटे हुसैन नवाज के अपार्टमेंट का दरवाजा तोड़ने का प्रयास कर रहे थे.यही नहीं कुछ लोग वहां प्रदर्शन पहले से कर रहे थे.एक नौजवान इतने गुस्से में था कि उसने पाकिस्तानी मुस्लिम लीग-नवाज की ब्रिटेन की शाखा के सदस्य पर सामान ढोने की ट्रॉली तक उठा कर फेंक दी है.वहीं दूसरे ने दरवाजे पर अंडे फेंके.


वीडियो में देखा जा सकता है कि किस तरह से मेट्रोपॉलिटन पुलिस आलीशान एवेनफील्ड हाउस के पास प्रदर्शनकारियों पहुंची और फिर उसने छानबीन भी शुरू की.हालांकि इस मामले में अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.पुलिस ने बताया कि शरीफ फैमिली ने किसी भी तरह की शिकायत दर्ज नहीं कराई है.

एक और वीडियो में दर्जन भर लोग पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ का झंडा लिए वहां लोग नवाज़ शरीफ का विरोध कर रहे थे इस हमले के बारे में मरियम नवाज ने कहा कि यह पीटीआई और उसके अध्यक्ष इमरान खान द्वारा करवाया गया है.मरियम ने कहा कि जिस तरह की भाषा का उपयोग इमरान खान अपने चुनाव प्रचार के दौरान कर रहे हैं वह दर्शाता है कि उन्हें और उनकी पार्टी के लोगों को खास तरह की ट्रेनिंग की जरूरत है.नवाज पर किए गए हमलों की पाकिस्तान की राजनीतिक पार्टियों ने निंदा की है.

गौरतलब है कि नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज का इलाज चल रहा है.वह लंबे समय से बीमार चल रही हैं.वहीं पीटीआई यूके के प्रवक्ता ने कहा कि हुसैन नवाज के घर पर किए गए प्रदर्शन पर पीटीआई पार्टी का कोई हाथ नहीं है.पिछले कुछ दिनों में एवेनफील्ड हाउस के बाहर इस तरह के प्रदर्शन की कई खबरें आ चुकी हैं.पहला प्रदर्शन 6 जुलाई को हुआ था जब दो समूह के लोग वहां मिठाई बांट रहे थे.तब दोनों समूह में बहस हो गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here