नई दिल्ली-मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान पर रैली के दौरान एक साधू ने पानी से भरा गुब्बारा फेंककर विरोध जताया. साधू ने कहा कि उसने पानी का गुब्बारा फेंककर शिवराज सिंह चौहान को श्राप दिया है.इस घटना के तुरंत बाद पुलिसकर्मियों ने साधू को गिरफ्तार कर लिया,बाद में पूछताछ के बाद साधू को छोड़ दिया गया.

वहीं पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के बीच साधू द्वारा सीएम शिवराज सिंह चौहान पर गुब्बारा फेंके जाने की घटना से रैली के दौरान बवाल हो गया.जब पुलिस ने साधू को हिरासत में लेने की कोशिश की तो साधू पुलिसवालों से ही भिड़ गया और उसकी पुलिसवालों से जमकर बहस हुई.ये घटना सीएम शिवराज सिंह चौहान के मध्यप्रदेश के राजगढ़ में एक रैली को दौरान हुई.

गुब्बारा फेंकने वाले साधू का कहना है कि वह परशुराम अखाड़े का राष्ट्रीय अध्यक्ष है.मध्य प्रदेश में हाल ही में दलित आंदोलन के दौरान हुई हिंसा से साधू नाराज बताया जा रहा है.यही वजह रही कि उसने आज रैली के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर पानी से भरा गुब्बारा फेंककर श्राप देने का दावा किया है.मीडिया से बातचीत में साधु ने भाजपा सरकार का विरोध करते हुए कहा कि गुजरात तो इन्होंने जैसे-तैसे निकाल लिया, लेकिन एमपी नहीं निकाल पाएंगे.साधु ने शिवराज सरकार पर दलितों की अनदेखी करने का भी आरोप लगाया.बता दें कि हाल ही में भारत बंद के दौरान मध्य प्रदेश में हुई हिंसा में 6 लोगों की जान चली गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here