राज्य

चुनावी सभा में ‘श्री राम सेना’ ने महात्मा गाँधी को दी गाली

नई दिल्ली-भारत में महात्मा गाँधी को राष्ट्रपिता का दर्ज़ा प्राप्त है,उनके अहिंसा के विचारों का पूरी दुनिया में सम्मान से एक विचार माना जाता है.महात्मा गाँधी ने आज़ादी की लड़ाई में भी अहिंसा आंदोलन से अंग्रेजो के खिलाफ अभियान चलाया.लेकिन अब महात्मा गाँधी को अपने देश में ही सम्मान नही है.

कुछ कट्टरपंथी हिन्दू समूहों में महात्मा गाँधी के लिए सम्मान का भाव नही है बल्कि अभद्र विचार है,ऐसा ही एक समूह श्री राम सेना है,कर्नाटक में श्री राम सेना के अध्यक्ष राजू भोसले ने राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया है.राज्य के गोकाक में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने महात्मा गाँधी के लिए कई बार अमर्यादित शब्दों का प्रयोग किया.

रविवार (11 फरवरी, 2018) को सभा में राजू भोसले ने कहा,‘जब भगत सिंह ने महात्मा गांधी को फॉलो करना छोड़ दिया,जाहिर तौर पर उन्होंने गांधी की तस्वीर को लात तक मार दी.इसके 15 साल बाद गांधीजी ने भगत सिंह की फांसी के आदेश दे दिए.महात्मा गांधी के लिए तब सभी सम्मान खत्म हो जाते हैं जब आपको पता चलता है कि वह एक हराम*** हैं.’

राजू भोसले ने इसी सभा में महात्मा गाँधी के लिए इससे भी अभद्र शब्द प्रयोग किये जिसे लिखा नही जा सकता है.इस मामले पर कांग्रेस ने गांधीवादी तरीके से श्री राम सेना को जवाब देने का निर्णय लिया है. कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी उपाध्यक्ष प्रोफेसर राधाकृष्ण ने एक टीवी चैनल को बताया, ‘गांधी ने वास्तव में ऐसे शब्दों के लिए भी भोसले को माफ कर दिया होगा.लेकिन में वास्तव में हैरान हूं कि जब पूरी दुनिया गांधी का सम्मान करती है उन्हें पढ़ती है तब भी कुछ लोग उनके बारे में ऐसी बातें बोलते हैं.’

Loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top