भारत में खेलो को लेकर वैसे तो उदासीनता काफी हद तक रहती है लेकिन क्रिकेट ऐसा खेल है जिसे भारत में देखा और पंसद किया जाता हैं ये किसी को बताने की जरूरत नही हैं लेकिन फिर भी क्रिकेट खेलना और क्रिकेट की बातें करना लोगो को अच्छा लगता है..क्रिकेट के साथ लोगो के इमोशन जुड़े हैं.टीम के खिलाडियो के लिए भी लोग वही दीवानगी दिखाते हैं जो बॉलीवुड के कलाकरों के लिए दिखाते हैं.

जैसाकि हम जानते है भारत ही ऐसा देश जहाँ एक खिलाडी को क्रिकेट का भगवान बताया गया.जी हां मास्टर ब्लास्टर सची तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है.अब सोचिये भारत में लोग क्रिकेट से किस प्रकार जुड़े है.यहाँ क्रिकेट खिलाड़ी के बारे में लोग हर छोटी और बड़ी बात करने में दिल्चस्वी रखते है.

लेकिन ऐसे में जब किसी क्रिकेटर की मौत की खबर आये तो लोगो का दुखी होना स्वाभाविक हैं.लोगो को जब पता लगा कि भारत के पूर्व क्रिकेट खिलाडी का निधन हो गया है इस खिलाड़ी का नाम है गोपाल बोस.गोपाल बोस के निधन के वज़ह से पुरे क्रिकेट जगत में मायूसी है.बोस भारत के लिए इंटरनेशनल मैच और बंगाल के लिए रणजी में कई मैच खेल चुके है.

आपकी जानकरी के लिए बता दे की भारत के पूर्व क्रिकेटर गोपाल बोस ने 71 वर्ष की आयु में बर्मिंघम के अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से दुनिया को अलविदा कह दिया हैं.अपने समय के जुझारू खिलाडी रहे गोपाल बोस ने कई सालो तक बंगला रणजी टीम की कप्तानी की बागडौर भी सम्भाली थी .हालाकि गोपाल बोस को भारतीय टीम के लिए खेलने का एक मौका ही मिला था लेकिन पूरा भारतीय क्रिकेट उनका सम्मान करता था.

सन 1974 में इंग्लैंड के खिलाफ एक मात्र अंतराष्ट्रीय मैच खेलने वाले गोपाल बोस ने सलामी बल्लेबाज के तौर पर 78 प्रथम श्रेणी मैचों में 8 शतक और 17 अर्धशतकों की मदद से 3757 रन बनाये और यही नही गेंदबाजी में भी उन्होंने 72 विकेट अपने नाम किये थे, एक बार तो उन्होंने एक पारी में पांच विकेट भी चटकाए थे.आपको यह भी बता दे की जब 2008 में भारत की अंडर-19 टीम ने वर्ल्ड कप जीता था तब गोपाल बोस उस टीम के मैनेजर थे.

गोपाल बोस अपनी आक्रामक बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते थे,कई जानकारों के मुताबिक उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट में अधिक मौके नही मिले जिसके वो हकदार थे.गोपाल बोस का योगदान नई प्रतिभाओ की तलाश में भी रहा है.उनका जाना भारतीय क्रिकेट जगत के लिए बड़ा नुकसान माना जा रहा अहि.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here