मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में एक दलित की इस लिए पिटाई हो गयी कि वो बारात घोड़े पर ले जा रहा था,NEWS18 के अनुसार, बारात लेकर जा रहे दूल्हे को इसलिए घोड़ी से उतार दिया गया कि वह दलित था.इसके बाद बारात पर पथराव भी किया गया और उनसे मारपीट भी की गई.घटना उज्जैन जिले के महिदपुर के पास ग्राम नाग गुराड़िया की बताई जा रही है.

यहाँ सवर्ण वर्ग के कुछ लोगों बारात ने ट्रैक्टर अड़ाकर रोक दिया और फिर दलित दूल्हे को घोड़ी से उतार दिया.इस दौरान असामाजिक तत्वों ने बारात पर पथराव भी किया और बारात में शामिल लोगो से मारपीट की गई. इसके बाद काफी दूर तक पैदल जाने के बाद दूल्हा फिर घोड़ी पर सवार हुआ. बताया जा रहा है कि पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन सौपंकर कार्रवाई की मांग की. इसके बाद पुलिस ने चार लोगो पर मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है.

दूल्हे के पिता सीताराम चौहान ने कहा कि रात 10 बजे ग्राम नाग गुराड़िया में बारात निकाली जा रही थी.तभी सवर्ण समुदाय के कुछ लोगों ने पथराव कर मारपीट शुरू कर दी.बारात को रोकने के लिए रास्ते पर क्टर खड़ा कर दिया और जातिसूचक शब्द कहते हुए दूल्हे संजय को घोड़ी से उतार दिया. काफी समझाने के बाद उन्होंने कहा यहां से पैदल ही जाना होगा.उन लोगो का कहना था कि हमारे सामने घोड़ी पर नहीं बैठ सकते.

पीड़ित पक्ष ने पुलिस पर भी आरोप लगाते हुए कहाकि डायल 100 को फोन करने के दो घंटे बाद पुलिस पहुंची और पुलिस ने उनकी शिकायत को अनसुना कर दिया इसके बाद हम सभी थाने पर भी गए तो वहां भी सुनवाई नहीं हुई. फिर महिदपुर एसडीएम जगदीश गोमे से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपा. एसडीएम गोमे ने मामले में जांच कर दोषी पाए जाने पर अधिकारियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here