अक्सर लड़कियां साफ सफाई के मामले में अव्वल है।शरीर के बाहरी अंगों तक तो ये ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल ठीक है लेकिन अगर बात करे प्राइवेट अंगों की सफाई की तो फिर यहां थोड़ा ध्यान देना होगा क्योंकि प्राइवेट पार्ट्स पर इन प्रोडक्ट के इस्तेमाल से इंफेक्शन होने का खतरा हो सकता है। समय समय पर प्राइवेट पार्ट की साफ सफाई बहुत जरुरी है।

प्राइवेट पार्ट-ऐसे रखें ख्याल…
गर्म पानी

जब भी प्राइवेट पार्ट की सफाई करना हो तो गर्म पानी का इस्तेमाल करे। गर्म पानी का इस्तेमाल करने से इंफेक्शन का खतरा नही होता है। ध्यान रखें कि पानी अधिक गर्म न हो।

पसीना
पसीने के कारण कई बार प्राइवेट पार्ट से दुर्गंध आने लगती है। एेसे में कई लोग इससे बचने के लिए परफ्यूम का इस्तेमाल करते हैं। ध्यान रखें कि भूलकर भी परफ्यूम का इस्तेमाल न करें।


पीरियड के दौरान महिलाओं को हर 4 घंटे में अपनी बदलना चाहिए। ऐसा करने से दुर्गंध नही आएगी।
बाथरूम जाने के बाद प्राइवेट पार्ट को टिशू पेपर से साफ करें। दया रखे की कपड़ो का इस्तेमाल नही करे क्योकि कपड़ो के कई घातक बैक्टीरिया होते है।


प्राइवेट पार्ट के बालों को समय समय पर साफ करते रहना चाहिए। ऐसा नही करने से प्राइवेट पार्ट में खुजली की प्रॉब्लम हो सकती है।रोजाना अपने अंडरगारमेंट को चेंज करना चाहिए। साथ हीे कॉटन के अंडरगारमेंट का प्रयोग करना चाहिए। खाने में लहसुन को शामिल करें। यह प्राइवेट पार्ट को नैचुरली साफ रहने में मदद करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here