लखनऊ: कांग्रेस के युवा संघठन ने बढती बेरोज़गारी के विरुद्ध लखनऊ में मार्च किया. 13 फ़रवरी के रोज़ लखनऊ में युवा कांग्रेस के अध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन किया गया. भागवत द्वारा सेना के लिए दिए गए आपत्तिजनक बयान पर अहिंसात्मक तरह से प्रदर्शन किया गया. इसके अलावा शिक्षा की बदहाली एवं बढ़ती बेरोजगारी के विरोध में राजीव चौक कालिदास मार्ग से जी पी ओ (गाँधी प्रतिमा) तक विरोध मार्च का आयोजन किया गया । युवाओ को रोजगार और शिक्षा का अधिकार दिलाने के लिए युवा कांग्रेस हर व्यक्ति के साथ खड़ी रहेगी।

इस दौरान युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने नारा लगाया- “देश में युवाओं की 65 फीसदी भागीदारी है..इसीलिये हम याचक नहीं, अधिकारी हैं।।” इस विरोध मार्च के ज़रिये कई मुद्दों को उठाने की कोशिश की गयी है और साथ ही सभी युवा नेताओं ने नारा लगाया “पकौड़ा नहीं रोज़गार चाहिए”.

“पकौड़े नही रोजगार चाहिए,शिक्षा और सम्मान चाहिए” जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में दीपक सिंह (विधान परिषद सदस्य उ.प्र.),अदिति सिंह(विधायक),विशाल राजपूत -प्रदेश सचिव उ.प्र.युवा कांग्रेस,प्रभारी – लखनऊ,मोहनलालगंज,मनोज तिवारी-अध्यक्ष,लखनऊ लोकसभा युवा कांग्रेस, शाबाज खान,आदित्य श्रीवास्तव ,रितेश बाल्मीकि -प्रदेश सचिव युवा कांग्रेस,लखनऊ हिमांशु शर्मा,शैलेश शुक्ला, आस्था तिवारी,लोसभा उपाध्यक्ष -नृपेंद्र प्रताप सिंह,हंसराज चौहान,वंदना सिंह,महासचिव लखनऊ लोकसभा युवा – सुरजीत सिंह,क्षितिज अवस्थी,आनन्द सिंह,अभिशेष बाल्मीकि, रीषभ मिश्रा, अमित सिंह,रमेश सिंह,आदित्य चौधरी आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here